Skip to main content

ये है ईरान का पुराना नाम | Iran Ka Purana Naam

ईरान का पुराना नाम | Iran Ka Purana Naam

जाने iran ka purana naam क्या था। हर किसी के मन ये सवाल आता है की ईरान पुराना नाम क्या हो सकता है। यहाँ पर आपको ईरान का पुराना नाम पत्ता चलेगा, साथ हम ईरान के बारे कुछ जानकारी देंगे जो आपके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकती है।

ईरान का पुराना नाम फ़ारस है। ऐतिहासिक रूप से ईरान का सामान्य नाम फ़ारस था। 1935 में रेजा शाह पहलवी ने विदेशी प्रतिनिधियों को औपचारिक पत्राचार में देश का नाम "ईरान" करने के लिए कहा। एस तरह से इसका नाम फ़ारस से ईरान रख दिया गया।

ईरान एक देश है जो एशिया महादीप के दक्षिण-पश्चिम खंड में स्थित है। ईरान एक इस्लामिक गणराज्य है। राजधानीऔर सबसे बडा़ नगर तेहरान है। इराक,तुर्की, अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान ये ईरान के पडोशी देश है।

ईरान में टोटल 30 प्रांत है। ईरान के निवासी लोगो को ईरानी कहा जाता है और एस देश की राजभाषा फ़ारसी है, इसके अलावा ईरान में अज़ेरी, कुर्दी, मज़न्दरानी, गिलाकी भी भाषा बोली जाती है।

ईरान को प्राचीन साम्राज्य की नगरी भी कहा जाता है। हखामनी साम्राज्य, सिकन्दर, सासानी, शिया इस्लाम आदि एसे बड़े बड़े साम्राज्य से ईरान देश जुड़ा हुआ था।

1930 के बाद ईरान देश ने बहुत तेजी से अपना आधुनिक विकास स्टार्ट किया। आज की वक्त ईरान की जनसंख्या 2018 के अनुसार 81,672,300 इतनी है और क्षेत्रफल 1,648,195 वर्ग किलोमीटर। क्षेत्रफल की दृष्टी से ये दुनिया का 18 वा सबसे बड़ा देश है।

संबंधित लेख जरूर पढ़ें

- इराक का पुराना नाम
- थाईलैंड का पुराना नाम
- ज़िम्बाब्वे का पुराना नाम

Comments