Skip to main content

चिंतामणि के लेखक कौन है | Chintamani Ke Lekhak Kaun Hai

चिंतामणि के लेखक कौन है | Chintamani Ke Lekhak Kaun Hai

जानेगे chintamani ke lekhak kaun hai और चिंतामणि को कब प्रकाशित किया? चिंतामणि क्या क्या लिखा है इसके बारे में सामान्य जानकारी हासिल करेंगे।

चिंतामणि के लेखक :- आचार्य रामचंद्र शुक्ल

चिंतामणि के लेखक आचार्य रामचंद्र शुक्ल है। चिंतामणि एक ग्रंथ जिसे हिंदी भाषा में लिखा गया है। ये एक निबंध पुस्तक है, इसे प्रकाशित करने के बाद भारत में बहुत प्रसिद्ध हुआ था। चिंतामणि में श्रद्धा और भक्ति, कविता क्या है करुणा, भय आदि के बारे में बताया है। चिंतामणि ग्रन्थ के पहले 2 भाग प्रकाशित थे। 1983 में चिंतामणि ग्रन्थ का 3 रा भाग भी प्रकाशित किया गया। चिंतामणि आचार्य रामचंद्र शुक्ल‎ का एक प्रसिद्ध निबंध पुस्तक है।

आचार्य रामचंद्र शुक्ल कौन है

आचार्य रामचंद्र शुक्ल हिन्दी साहित्यकार अनुवादक, निबन्धकार, एक प्रमुख कवि थे। इनको हिन्दी साहित्य का प्रमुख भी कहा जाता है। भारत देश के education पाठ्यक्रम निर्माण में रामचंद्र शुक्ल की लिखी हुई पुस्तक की हेल्प ली जाती है। रामचन्द्र शुक्ल का जन्म 4 अक्टूबर, 1884 में बस्ती ज़िला, उत्तर प्रदेश में हुआ।

आचार्य रामचंद्र शुक्ल को साहित्य, मनोविज्ञान, इतिहास को पढ़ने में बहुत रूचि थी। इनके लेखन में ज्यादातर संस्मरण, निबंध यात्रावृत् एसे विषय होते है। रामचंद्र शुक्ल मिर्ज़ापुर कलक्टर ऑफिस में पहले job करते थे, लेकिन कुछ कारन वश इसके जॉब को छोड़ दिया। बाद में रामचंद्र शुक्ल ने हिन्दी साहित्य में लेखन करना start किया।

आचार्य रामचंद्र शुक्ल चिंतामणि पुस्तक के अलावा हिन्दी साहित्य का इतिहास, हिन्दी शब्द सागर, नागरी प्रचारिणी पत्रिका आदि महत्त्वपूर्ण पुस्तक का लेखन किया है।

संबंधित लेख जरूर पढ़ें

- वंदे मातरम के लेखक कौन है
- बंदी जीवन पुस्तक के लेखक कौन है
- हिन्द स्वराज नामक पुस्तक के लेखक कौन है
- दास कैपिटल पुस्तक के लेखक कौन हैं
- इंडिका के लेखक कौन है

Comments